have faith in me and in my blog ....and.... i m sure u'll then start appreciating nature and small small things around yourself!!! so, FEEL FREE TO SUBSCRIBE & ENJOY!!!

Sunday, February 21, 2016

अनुक्रम

अनुक्रम

बाई का नज़रिया-7
अनुभूति  -  8

क्र. कविता                  पृष्ठ संख्या                               क्र. कविता              पृष्ठ संख्या
1 माँ-माँ होती है...       11                                             40 जि़न्दगी                         56
2 प्रकृति                 13                                             41 सीख                                 57
3 गुलाब का एक फूल 14                                             42 फासला                         58
4 मौत                      15                                             43 हमसफर                         59
5 चैराहा                 16                                             44 खुशियाँ                         60
6 माँ की निगाहें         17                                             45 हौसला                         61
7 उसकी याद में         18                                             46 गुरू कृपा                         62
8 विष्वास                 20                                             47 इंसानियत खतरे में           64
9 क़ब्र                         21                                             48 माँ, तुम याद आती हो        65
10 एकबदनसीब इंसान 22                                             49 एक बेटी तो होनी चाहिए! 66
11 आज का इंसान 24                                                     50 उपलब्धि                         68
12 समर्पण और त्याग 25                                             51 ज्ञान                                 69
13 माँ का प्रतीक         26                                             52 एक उम्मीद-नया वर्ष         70
14 याद                         27                                             53 अन्न-महिमा                 71
15 स्वतंत्रता दिवस-चिंतन 28                                             54 मध्यस्थता                 72
16 खामोषी                29                                             55 कानून का भय                 73
17 इंसान और यमराज 30                                             56 अतिक्रमण                 74
18 दर्द की अनुभूति         31                                                57       विष्व जनसंख्या दिवस 75
19 अपेक्षाएं और खीझ 32                                             58 साथी                          76
20 आदत                 33                                             59 हकीकत                         77
21 वजूद                         34                                             60 समभाव                         78
22 एहसास                 36                                             61 श्रीगणेष                         79
23 कीमत                 37                                             62 मौन                                  80
24 भ्रूण हत्या                 38                                             63 आत्म-चिंतन                  81
25 जीत                         40                                             64 माँ के समान                  82
26 साथ                        41                                             65 धापी                                 83
27 सजा                         42                                             66 नीड़                                 84
28 काल                   43                                             67 धापी नीड़                         85
29 रफ्तार                44                                             68 जीवन-एक दृष्टिकोण 86
30 माँ का आँचल        45                                             69 अपरिग्रह                         87
31 एक पल               46                                             70 हिरण                         88
32 मेरा प्यारा गाँव-छुईखदान  47                                     71 पैसा                                 89
33 छत्तीसगढ़ का वृन्दावन छुर्दखदान 48                             72 नया वर्ष मंगलमय हो! 90
34 हक                      50                                              73 माँ की याद                 91
35 स्वयं के आकलन का तरीका51                                     74 चलना ही जीवन है         92
36 संबंध           52                                                     75 राजा की खरोंच                 93
37 शेरनी           53                                                     76 रिष्ता                         94
38 इंसानियत  54                                                    77   नज़रिया                         95
39 प्रकृति की अद्भुत निगाहें 55

No comments: