have faith in me and in my blog ....and.... i m sure u'll then start appreciating nature and small small things around yourself!!! so, FEEL FREE TO SUBSCRIBE & ENJOY!!!

Tuesday, August 16, 2011

१५ मिनट में स्वतंत्रता

सिर्फ 30 मिनट में स्वतंत्रता
कल रात दिनांक 15/08/2011 को जब सारा देश स्वतंत्रता दिवस की खुशिया मनाने में व्यस्थ्त था तभी रात के 8.30 बजे मेरे मोबाईल में लखनऊ (उ.प्र.) से श्री सुरेश सिंह ढ़पोला जो एक स्वयं सेवी संस्था नवजीवन से जुड़े है और जिन्होंने वर्तमान में रास्ते में जो लोग मानसिक रूप से स्वस्थ नहीं दिखते उनकी संस्था में ले जाकर उनके पुनर्रउत्थान के लिये कार्य कर रहे है , का फोन आया कि एक पुलिसवाला उनकी संस्था में 14 , 15 साल की एक लड़की को लेकर आया है और उन्होने उनके बारे में मुझे संक्षिप्त जानकारी देकर लड़की से बात करने को कहा तब मैने उक्त लड़की से बात की तब उसका नाम कुमारी निशी कुमारी साहू पिता-राजकुमार साहू माता श्रीमति सरोज साहू ग्राम-कटई या पटई थाना-नवागढ़ जिला-दुर्ग
छ.ग. का होना बतायी उक्त लड़की बहुत अच्छे से प्रश्न का जवाब नही दे पा रही थी तब श्री ढ़पाला ने कहा कि लड़की की उम्र लगभग 14 , 15 साल की है और वह मानसिक रूप से पूर्ण स्वस्थ प्रतीत नहीं होती और श्री ढ़पोला ने मुझसे इस संबंध में कुछ करने को कहा ।
उसी वक्त मैने श्री अरविंद दास आरक्षक जो न्यायालय में मुहर्ररीर आरक्षक था से बात कर नवागढ़ टी.आई. और एस.पी. साहब का मोबाईल नंबर लिया उसके बाद मैने श्री के.पी. बंजारे नवागढ़ टी.आई. और श्री अमित कुमार साहब पुलिस अधीक्षक दुर्ग से फोन में बात की और उन्हे श्री ढपोला का नंबर दिया ।
कुछ ही समय बाद फिर मोबाईल में जानकारी मिली कोटवार को गांव भेज दिया गया है और कोटवार से उक्त लड़की की जानकारी जुटा कर उसकी दादी से बात करायी गई और पता चला कि लड़की के माता पिता लखनऊ में ही मजदूरी करने गये है श्री ढ़पोला ने फिर जानकारी दी कि लड़की के पिता से संपर्क नहीं हो पा रहा है , किन्तु मेसेज कर दिया गया है ।
आज दिनांक 16-08-2011 दोपहर में फिर फोन आया कि लड़की के पिता श्री ढ़पोला के पास बैठे हुऐ है और उनसे बात हुई और उन्हे बताया कि उनकी लड़की 14/08/2011 से कही गई हुई थी आज वे रिपोर्ट लिखाने जाते ।
फिर लड़की के पिता श्री राजकुमार साहू मुझे शुक्रिया कर रहा था , जबकि शुक्रिया का वाजिब हकदार तो श्री सुरेश सिंह ढपोला (लखनऊ) और पुलिस वाले जिसमें मुख्य रूप से पुलिस अधीक्षक श्री अमित कुमार जिला- दुर्ग , टी.आई. श्री के.पी.बंजारे और आरक्षक श्री अरविंद दास है ।
श्री राजकुमार साहू की बातो से मुझे एैसा लगा कि अपने क्षेत्र में भी एैसी संस्थाऐ होनी चाहिये जो मानसिक रूप से अस्वस्थ व्यक्ति की जिसमें राह चलते लोग शामिल है और नशे की हालत से जो लोगो की स्थिती खराब हो गई है उसे छुड़ाने में कारगर साबित होती है ।
एक पल के लिये एैसा लगा कि स्वतंत्रता दिवस में सिर्फ 30 मिनट में ही उक्त लड़की को स्वतंत्रता दिला दी गई । सभी के सहयोग की मैं तहेदिल से शुक्रगुजार हॅू और आप सभी को स्वतंत्रता दिवस की बधाई देता हॅू ।
लडकी ,उसके पिता से छत्तीसगढ़ी में बात करने से सही जानकारी मिल सकी । छत्तीसगढ़ी भाषा का ज्ञान होना आज सुखद अनभूति दे गया .