have faith in me and in my blog ....and.... i m sure u'll then start appreciating nature and small small things around yourself!!! so, FEEL FREE TO SUBSCRIBE & ENJOY!!!

Tuesday, October 5, 2010

मौत

इंसान !
एक मौत
से बचने के लिए
हजारों कोशिशें
करता है
और
जिन्दा रहते हुए भी
हजारों बार
मरता है

1 comment:

ali said...

बड़ा ही गूढ़ दर्शन दे डाला है आपने इस बार ! कहनें को केवल कुछ शब्द पर चिंतन को अशेष ! साधुवाद !